लेडी टीचर छात्र से बोली- फीस नहीं कुछ और चाहिए, कुछ घंटे बाद इस हाल में छोड़ा

0
5943

पटियाला ।। पंजाब के राजपुरा के गांव मरंदापुर के एक स्कूल में छात्रों के साथ स्कूल की प्रिंसिपल खेल रही थी गंदा खेल, शिक्षा के इस मंदिर में छात्रों की इज्जत को किया जा रहा था तार-तार स्कूल की प्रिंसिंपल अपनी हवस को मिटाने के लिए स्कूल के 12 वी क्लास के लडके के साथ शारिरिक संबध बना रही थी।कई बार नाबालिक स्टूडेंट ने मना किया तो देती थी स्कूल से नाम काटने की धमकी। मिली जानकारी के अनुसार 12वीं के छात्र का नाम काटने की धमकी देकर महिला प्रिसींपल घर बुलाकर सेक्स करने के लिए मजबूर कर दिया। यहां के एक स्कूल की महिला शिक्षक पर बारहवीं कक्षा में पढ़ने वाले एक नाबालिग छात्र ने उसके साथ कथित तौर पर नाजायज संबंध बनाने के आरोप लगाते हुए कहा कि प्रिंसिपल उसे घर बुलाती थी और कई बार सेक्स के लिए मजबूर करती थी। जब वो मना करता तो उसे स्कूल से नाम काटने की धमकी दी जाती।

पीडि़त परिवार का कहना है कि उनके बेटे को कई बार आरोपी प्रिंसिपल ने घर बुलाया और कई बार अलग अलग स्थानों पर उसके साथ सेक्स किया। छात्र सेक्स करने से मना करता तो उसे धमकाया जाता। छात्र ने कहा कि वे 5-10 बार प्रिंसिपल के घर गया। कई बार रात को उनके घर ठहरा। फिर वहां मेरे और उनके बीच कई बार संबंध बने।

हम दोनों में फोन और व्हाट्सएप पर बात होती थी। मुझसे पहले एक और छात्र के साथ प्रिंसिपल ने ऐसे ही शारीरिक संबंध बनाए। वह स्टूडेंट इस वक्त विदेश चला गया है। एक बार छात्र अड़ भी गया था और उसने सेक्स करने से मना कर दिया। इसके बाद टीचर ने उस पर आरोप लगाते हुए उसका नाम स्कूल से कटवा दिया। दोबारा स्‍कूल में नाम लिखाने के लिए बात की तो प्रिंसिपल ने उसे शारीरिक संबंध बनाने को कहा। छात्र के अनुसार, प्रिंसिपल ने कहा कि शारीरिक संबंध बनाने पर ही वह उसका स्कूल में नाम दोबारा लिखेगी। फिर उसने संबंध बनाए और तब जाकर उसका नाम लिखा गया।

गांव जंड मंगोली के बलविन्द्र सिंह ने बताया कि उसका बेटा गांव मरदांपुर के सरकारी हाई स्कूल में पडऩे के लिए जाता है। वहां की प्रिंसिपल उसे बहला फुसला कर नाजायज सम्बध बनाने के लिए दबाव बनाती रही है। इसके लिए उसने कई बार उसे घर पर बुलाकर अनैतिक कार्य करने के लिए बाध्य किया। जब वे इलाकावासियों के साथ शिकायत लेकर स्कूल पहुंचे तो उनसे आरोपी प्रिंसिपल ने बदतमीजी की बाद में हमने मीडिया को बताया तो प्रिंसिपल पिछले गेट से रवाना हो गई।

वहीं, मरदांपुर स्कूल की वाइस प्रिंसीपल सरोज शर्मा ने कहा कि स्कूल का स्टाफ व सैकड़ों विद्यार्थी उक्त महिला प्रिंसिपल से परेशान रहते थे जैसे ही शिक्षा विभाग की टीम स्कूल में पहुंची तो एक दर्जन से ज्यादा विद्यार्थियों सहित स्कूल स्टाफ ने लिखित तौर शिकायत देकर अपनी बात विभाग तक पहुंचाई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here