कुंभ में करोड़ों रुपए के घोटाले को पकड़ा लेखा टीम ने

0
16

प्रारंभिक जांच में 152 करोड़ की फर्जी बिलिंग
प्रयागराज । कुंभ मेले की व्यवस्था के लिए उत्तर प्रदेश सरकार ने कुंभ मेला में लगे सभी सरकारी विभागों को अग्रिम राशि जारी की थी इस राशि का बड़े पैमाने पर दुरुपयोग कर अरबों रुपए का भ्रष्टाचार किया गया है कुंभ की लेखा टीम ने हाल ही में जो रिपोर्ट प्रस्तुत की है उस रिपोर्ट के अनुसार विभिन्न विभागों ने सामानों की आपूर्ति की जो बिल वाउचर मार्च माह में जमा कराए हैं अधिकांश बिलों में कई गुना ज्यादा बिल बनाया गया है लेखा विभाग ने स्वास्थ्य विभाग लोक निर्माण विभाग सिंचाई विभाग जल निगम और विद्युत विभाग सहित 17 सरकारी विभागों के 152 करोड रुपए के ओवर वीलिंग के मामले को पकड़ा है लेखा विभाग ने मेला अधिकारी विजय किरण आनंद और विभागीय अधिकारियों से स्पष्टीकरण मांगा है।
सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार कुंभ मेले के दौरान अरबों रुपए का भ्रष्टाचार सुनियोजित रूप से हुआ है इसमें सरकारी खरीदी नियमों का खुलकर उल्लंघन हुआ है वहीं अधिकारियों ने मनमाने तरीके से मनमानी राशि के बिल बनवाकर अरबों रुपए का घोटाला किया है इस तरह की गड़बड़ियों को देखते हुए लोक निर्माण विभाग में भुगतान रोक दिया है और जांच कराने के बाद ही अब भुगतान करने की बात कही जा रही है।